दंतमंजन उद्योग लगाए और हर महीने ₹50000 कमाए toothpaste manufacturing business

दंत मंजन हमारे दैनिक जीवन का प्रमुख हिस्सा है और हर घर में उपयोग होता है सुबह आंख खुलने के बाद सबसे पहले उपयोग में आने वाली आवश्यक उत्पाद दंत मंजन हीं है.
दंत मंजन का नाम आते ही हमारी आंखों के सामने प्रसिद्ध उत्पाद जैसे क्लोजअप कोलगेट पेप्सोडेंट लाल दंत मंजन विको वज्रदंती आदि आ जाते हैं.
दंत मंजन मुख्य रूप से दो प्रकार के होते हैं 1 पेस्ट के रूप में और दूसरा पाउडर के रूप में बाजार में उपलब्ध है.
पाउडर स्वरूप दंत मंजन क्योंकि पारंपरिक स्वरूप के पद्धति का चूर्ण होता है बनाने के लिए खर्चा कम आता है जबकि पृष्ट स्वरूप दंत मंजन बनाने के लिए खर्चा ज्यादा आता है.
आप घर से ही 50000 से ₹100000 लगाकर गृह उद्योग के रूप में दंतमंजन उद्योग को शुरू कर सकते हैं.


रा मटेरियल

रा मटेरियल के रूप में फिटकरी नमक लकड़ी का कोयला नीलगिरी का तेल हिरडा सुगंधित द्रव्य और आयुर्वेदिक गुड धर्मों के पेड़ों के छाले आदि कच्चे माल के रूप में उपयोग में लाए जाएंगे

मशीनरी

इस उद्योग को शुरू करने के लिए ग्राइंडर बड़ा मिक्सर पैकिंग करने की मशीन प्लास्टिक की टब पॉलिथीन की थैलियों स्टीकर्स बैरल  कटर्स इत्यादि उपयोग में लाए जाते हैं.

इस उद्योग को शुरू करने के लिए 2000 स्क्वायर फीट जमीन की जरूरत होती है जिसमें 1000 स्क्वायर फीट की इमारत होनी चाहिए अगर मनुष्य बल की बात करें तो इसमें कुल आठ  मनुष्य बल की आवश्यकता होती है जिसमें दो कुशल दो अर्धकुशल तथा चार और अकुशल मनुष्य बल चाहिए होते हैं.
मशीनरी पर 350000 रुपए क्या ब्याज होता है कच्चा माल प्रति महीने ₹100000 तक का लगता है.
इस उद्योग को लगाने पर आप को बैंक से 65% लोन मिलता है तथा खुद का 35% लगाना होता है. अगर आप मासिक ₹1000 का कच्चा माल लेकर व्यवसाय करते हैं तो आप की वार्षिक बिक्री 2740000 रुपए होगी जिस में कुल वार्षिक खर्च 21 लाख रुपए होंगे इस प्रकार से इस व्यवसाय में वार्षिक 640000 रुपए का फायदा होगा.
इस व्यवसाय को आप कम लागत में भी शुरू कर सकते हैं.

Please follow and like us:
error

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!